AK-47 से भी ज्यादा खतरनाक है अमेठी में बनने वाली AK-203 राइफल्स

पीएम मोदी ने इंडो-रूस की ऑर्डिनेंस फैक्ट्री का उद्घाटन किया जहां एके-203 का निर्माण जल्द शुरू होने वाला है. एके-203 दरअसल दुनिया की सबसे मशहूर असॉल्ट राइफल एके-47 का अपडेट वर्जन है.

क्या है क्लाशनिकोव गन
दुनिया को सबसे खतरनाक गन देने वाली शख्‍सियत का नाम है, मिखाइल क्लैशनिकोव. इन्हीं के नाम पर एके-47 का नाम पड़ा. एके का फुलफॉर्म होता है ऑटोमैटिक क्लैशनिकोव. जब‌कि 47 का आशय इसके बनने वाले साल से है. यह बंदूक साल 1947 में पहली दफा बनाई गई थी. बाद में इसकी श्रृंखला शुरू हुई. एके 47 के बाद एकेएम, एके-74, एके-101, एके-103, एके-105, एके-12, आरपीके, पीके मशीन गन से होते हुए अब इस श्रृंखला की अंतिम सबसे खतारनाक और एडवांस गन एके 203 भारत में बनाई जाएगी.

Leave a Comment

Your email address will not be published.